रिचॉन होम्स ने परिवार से सीखा मज़बूत और लचीला होना

भाइयों की स्पर्द्धा और माता-पिता के मार्गदर्शन से प्रभावित नंबर 22, सैक्रामेंटो में अपनी निर्बाध ऊर्जा और संक्रामक लगन के साथ अपनी अलग पहचान बना रहे हैं।
by Alex Kramers
Writer, Kings.com

वहाँ, टैकल फुटबॉल और आइसोलेशन बास्केटबॉल को मिलाकर रात में खेले जाने वाले 'हैक' गेम अक्सर कई घंटे चलते हैं और अपने पीछे बहुत सी चोटें, ख़राशें और कभी-कभार नील पड़ी आँखें भी छोड़ जाते हैं।

और इसका असर? रिचॉन होम्स, किंग्स के टिकाऊ सेंटर और फ़ैन फ़ेवरेट, जिन्होंने देश भर में रिम्स पर अपने जलवे दिखाये हैं, आज लगभग दो दशक बाद भी उनका लाभ उठा रहे हैं।

चार बेटों में सबसे छोटे होम्स जब केवल आठ वर्ष के थे, तभी से डाउनटाउन शिकागो से कोई 12 मील दूर, छोटे-से गाँव ब्रॉडव्यू में अपने भाइयों के पीछे-पीछे घर के तहख़ाने तक पहुँच जाते और सीमेंट के फर्श पर बास्केटबॉल को ड्रिबल करने की कोशिश करते।

सुनने में आसान लगता है लेकिन जहाँ न कोई रिम हो और न कोई रेफरी, वहाँ जीत उसी की होती थी जो बाक़ी तीनों के बीच से बॉल को दूसरे सिरे तक सफलतापूर्वक पहुँचा सके और उनके तमाम हमले झेल सके। कभी-कभी इस दौरान कोई खिड़की टूट जाती, एक बार तो एक लूज़ बॉल की लड़ाई में पूल टेबल भी टूट गयी थी।

“बड़ी काँटे की टक्कर होती थी लेकिन मुझे बहुत मज़ा आता था ," होम्स हँसकर उन दिनों को याद करते हैं। "कोई नियम नहीं, कोई फ़ाउल नहीं, बस, जीत की लगन।"


कुछ इसी तरह के होते थे वे पिक-अप गेम्स, जो कुछ दूर पार्क में खेले जाते थे, जहाँ हूप लगा हुआ था। उनके बड़े भाइयों ने, जो सभी हाई स्कूल बास्केटबॉल खिलाड़ी थे, कभी उनकी राह आसान नहीं बनायी। भोर से लेकर बत्तियाँ जल जाने तक रिचॉन को बेबस करने की कोशिशें जारी रहतीं।

“वे अकसर मेरी पिटाई भी कर देते लेकिन मैं आज जिस तरह खेलता हूँ, उसके पीछे उनका भी हाथ है," रिचॉन कहते हैं। "मैं गुस्से में भरकर खेलता था ताकि उन्हें हरा सकूँ और मेरे पूरे करियर में यही जारी रहा।"

डॉक्टर्स ऑफ़ डिविनिटी, रिचर्ड और लिडीशिया होम्स के बेटे रिचॉन ने घर से कड़े परिश्रम और सत्यनिष्ठा के गुण सीखे। जहाँ तक स्पोर्ट्स का सवाल है, शिकागो के मॉर्निंग व्यू 'वर्ड' चर्च के सीनियर पास्टर, रिचर्ड, बास्केटबॉल और बोलिंग दोनों ही खेलों में ज़बरदस्त प्रतिस्पर्द्धा का भाव रखते थे।

“मेरी सारी मज़बूती मेरे भाइयों और माता-पिता की देन है," रिचॉन बताते हैं। “मैं आज जो हूँ, उस पर उनका बड़ा प्रभाव है।"

पारिवारिक स्पर्द्धा का स्वरूप बिलकुल ही बदल गया जब ख़ुद को "लेट ब्लूमर" कहने वाले, 6 फुट 2 इंच के हरफ़नमौला रिचॉन, पंद्रह वर्ष के होते-न-होते 6 फुट 9 के पावर फॉरवर्ड के रूप में उभरे।

अपनी इस नयी ऊँचाई और शक्ति के साथ तालमेल बैठाने के बाद तो उन्होंने कोर्ट में किसी को नहीं बख़्शा - न अपने भाइयों को और न हाई स्कूल के अपने विशालकाय विरोधियों को। वे आज भी उस दिन को याद करते हैं जब उन्होंने 16 वर्ष की आयु में अपने सबसे बड़बोले भाई रे को आमने-सामने की टक्कर में पहली बार हराया था।

“मैं हमेशा मध्यम दर्जे का खिलाड़ी था, जो एक तरह से सब कुछ करता था," होम्स बताते हैं। “मैं बिलकुल कच्चा था। बस मुझे खेलना पसंद था। जब मैं बड़ा हुआ, तब मुझे अपनी प्रतिभा को तराशने में मदद मिली और तभी मैंने कुछ बनने की कोशिश की ...मेरे ख्याल में मेरे सीनियर वर्ष में यह सब और अच्छी तरह संभव हुआ।"

किशोरावस्था में केविन गार्नेट के प्रशंसक, होम्स, जिम के बाहर सौम्य और मृदुभाषी हैं, लेकिन कोर्ट में उनका व्यवहार इतना आक्रामक होता है कि उनके रोल मॉडल भी उन पर गर्व कर सकते हैं। अपने हर स्लैम और स्वैट से बास्केटबॉल को दर्शकों से भरे स्टैंड्स तक पहुँचाने के बाद वे ढेरों शोर मचाते हैं।

उन्हें यूनिवर्सिटी में खेलने के मौके कम मिले और लॉकपोर्ट टाउनशिप हाई स्कूल में भी वे लगभग गुमनाम से ही रहे। इस कारण उन्हें केवल एक ही स्कॉलरशिप की पेशकश मिली -  ब्रैडली के डिवीज़न 1 प्रोग्राम से और वह भी इस शर्त पर कि वे पहले वर्ष में रेड-शर्ट के तौर पर खेलेंगे। तब उन्होंने एक ग़ैर-पारंपरिक रास्ता अपनाया और अपने घर से आधा घंटा दूर मोरेन वैली कम्युनिटी कॉलेज में दाखिला ले लिया। 

जूनियर कॉलेज में अपने एकमात्र सीजन में होम्स ने 19.3 पॉइंट, 9.3 रिबाउंड और 5.2 ब्लॉक प्रति गेम का औसत बनाया और ऑल अमेरिकन सम्मान हासिल किया। इसके बाद वे सत्र के बीच में ही बोलिंग ग्रीन स्टेट यूनिवर्सिटी में चले गये। वहाँ अपने तीन वर्षों में उन्होंने यूनिवर्सिटी के इतिहास में पहला ऐसा खिलाड़ी होने का गौरव प्राप्त किया, जिसने 1000 से अधिक पॉइंट, 600 से अधिक रिबाउंड और 200 से अधिक ब्लॉक लिए। उन्होंने कुल 1089 पॉइंट, 652 रिबाउंड और 244 ब्लॉक दर्ज किये, जो फालकन्स का ऑल-टाइम रिकॉर्ड है।

जूनियर के रूप में लगभग सभी स्काउट्स द्वारा अनदेखी किये जाने के बावजूद होम्स जानते थे कि उनमें प्रतिभा है और उससे भी अधिक महत्त्वपूर्ण बात यह कि NBA तक पहुँचने की चाहत और लगन है।

“मुझे तब भी लगता था कि मैं कुछ बन सकता हूँ और कहीं (पेशेवर के तौर पर) खेल सकता हूँ," उन्होंने बताया। “मैं बस इतना ही चाहता था कि इतना अच्छा खेलूँ कि यह संभव हो सके।"

जब NBA की टीमें संशय में थीं कि होम्स की विशिष्टतायें - उनकी चुस्ती-फुर्ती, उम्दा आउटसाइड जम्प शॉट (सीनियर वर्ष में थ्री से 41.9 प्रतिशत) और अद्वितीय रिम संरक्षण - उन्हें पेशेवर खिलाड़ी बनाने के लिए काफी हैं, तब इस विशालकाय खिलाड़ी ने पोर्ट्समाउथ इन्विटेशनल और NBA कंबाइन में अपने ज़ोरदार प्रदर्शन से उनके सारे संदेह दूर कर दिये। इसके बाद वे ड्राफ्ट-पूर्व वर्क-आउट्स के लिए शहर-शहर गये और पिछलग्गू के बजाय लॉटरी से चुने जाने योग्य बन गये।




View this post on Instagram


THE BEST DUNK FROM THIS GAME

A post shared by Sacramemeto Kings (@sacramentokings) on

वर्ष 2015 में, सिक्सर्स द्वारा 37 ओवर-ऑल चुने गये होम्स ने अपने करियर की शुरुआत NBA और G-लीग के लिए खेलने से की। इसके बाद, 2016-17 सीजन के दूसरे हिस्से में वे रेगुलर रोटेशन में पहुँच गये। ऑल-स्टार ब्रेक के बाद के 26 गेम्स में उन्होंने 13.6 पॉइंट, 6.9 रिबाउंड और 1.2 ब्लॉक प्रति गेम का औसत दर्ज कर और पाँच डबल-डबल के अलावा तीन गेम्स में 20 से अधिक पॉइंट लेकर प्रभावित किया।

होम्स कहते हैं कि फ्रंट-कोर्ट में खेलने के लिए ऑल-स्टार जोएल एमबीड और लॉटरी-चयन में अग्रणी नेर्लेंस नोएल और जहलील ओकाफ़ॉर जैसे खिलाडियों के बीच अपनी जगह बनाने के चक्कर में उन्होंने बहुत  सीखा।

“उन जैसे खिलाड़ियों और ख़ास तौर पर महान सेंटर, जोएल के साथ हर रोज़ प्रैक्टिस कर पाना मेरे करियर के लिए बहुत महत्त्वपूर्ण रहा," वे कहते हैं। "मैंने निश्चित रूप से बहुत कुछ सीखा।"

फ़िलेडैल्फ़िया और फ़ीनिक्स में, जहाँ वे हमेशा पिक-एंड-रोल में शामिल होने और दूसरे छोर पर डिफेंड करने को तैयार रहते थे, उनके ऊँचे-ऊँचे डंक्स और ज़ोरदार ब्लॉक्स ने दर्शकों का ख़ूब मनोरंजन किया। 

सिनर्जी स्पोर्ट्स के अनुसार, 2018-19 में नंबर 22 रोल मैन के तौर पर(1.23 पॉइंट प्रति पज़ेशन) 88वें परसेंटाइल पर रहे, जो कम से कम 150 पज़ेशन लेने वाले खिलाड़ियों के बीच छठवाँ है। वर्तमान सीजन में वे उससे भी अधिक प्रभावशाली रहे हैं। किंग्स के साथ अपने आठ गेम्स में वे कभी-कभी ऐसी परिस्थितियों में अजेय रहे हैं और उन्होंने 1.27 पॉइंट प्रति पज़ेशन का औसत दर्ज कराया है।

“मैं यही तो करता हूँ," वे कहते हैं। "मैं ज़्यादातर रोल मैन ही हूँ। मैं रिम के आसपास रहना चाहता हूँ और वहीँ जितना हो सके दबाव डालना चाहता हूँ।"

अब तक, बहुत अच्छा: CBS स्पोर्ट्स के अनुसार एक को छोड़कर सभी खिलाड़ियों से कम समय कोर्ट में बिताने के बावजूद होम्स का डंक्स (18) में छठवाँ  रैंक है।

बग़ैर बॉल के लगातार दौड़ते हुए, वे कटर के रूप में और उच्च-स्तर के ट्रांजीशन के मौकों पर स्कोर करना जारी रखते हैं और साथ ही विवादित रिबाउंड हासिल करने (टीम में सबसे अधिक 2.9 प्रति गेम) और अपने साथियों के लिए बचाव पंक्ति रचने में भी तत्पर रहते हैं।

“आक्रमण करते समय आपको बाधायें खड़ी करनी पड़ती हैं। मेरी कोशिश रहती है कि मेरे साथी खुलकर खेल सकें और देख सकें," होम्स बताते हैं। "और बहुत बार जब आप दूसरों को बचा रहे होते हैं तब ख़ुद खुले में होते हैं और आपको अपने साथी की मदद की ज़रूरत होती है। इसी से आक्रमण सुचारु बनता है और मैं वही करना चाहता हूँ।"

टीम की नीतियाँ निर्धारित करते समय उनका योगदान विशेष महत्त्व का है। NBA.com के अनुसार होम्स के फ्लोर पर रहते किंग्स ने विरोधियों को 26.3 पॉइंट प्रति 100 पज़ेशन से पछाड़ा है। उनके कोर्ट में रहने के 196 मिनटों में सैक्रामेंटो की रक्षा रेटिंग 105.5 रही है जबकि उनके कोर्ट में मौजूद न रहने के 188 मिनटों में वह बढ़कर 114.6 हो गयी थी, जो रोटेशन खिलाडियों के बीच सबसे अधिक अंतर (9.1) है।

“मैं हमेशा डिफेन्स को खेल की दिशा निर्धारित करने देता हूँ," वे  कहते हैं। "आप अपने प्रयासों से इसे हमेशा नियंत्रित कर सकते हैं।"

ट्रेनिंग कैंप के आरंभिक दिनों में ही उनके टीम-मेट्स ने पहचान लिया था कि इस विशाल खिलाड़ी में फ्लोर की पूरी लंबाई तक दौड़ जाने और पेंट पर छा जाने की जो क्षमता है, उससे लो-पोस्ट खिलाड़ी की कमी पूरी हो सकती है। होम्स को डी आरोन फ़ॉक्स के साथ तालमेल बैठाने में ज़्यादा समय नहीं लगा, क्योंकि वे पिछले सीजन में चार बार उनका सामना कर चुके थे और उनकी कार्य शैली से परिचित हो चुके थे।

“मेरा मानना है कि लोग जितना समझते हैं, उसकी बास्केटबॉल बुद्धि उससे कहीं बेहतर है," फ़ॉक्स का कहना है। "वह बीच में से बॉल लपक सकता है और अपने और दूसरों के हिसाब से उसे खेल सकता है। वह खेल में ऊर्जा लाता है, शॉट को रोकने की शक्ति लाता है औरअच्छे से अच्छे खिलाड़ी के बराबर रिबाउंड भी करा सकता है। और यह सब वह तभी से कर रहा है जब स्टार्टिंग लाइन-अप में था। इसलिए हमारे लिए उसका आना वरदान है।"

सैक्रामेंटो टीम के इस नवीनतम सदस्य को किंग्स के प्रशंसकों का दिल जीतने में और भी कम समय लगा। होम गेम्स में उनके नाम के नारे लगते हैं, और ट्विटर पर उनकी तारीफ़ों और तस्वीरों की बाढ़ आती रहती है।

“उन्होंने जो प्यार दिया है, जिस तरह मुझे गले लगाया है, वह बहुत ही ख़ास है," होम्स कहते हैं। " मुझे यहाँ खेलना अच्छा लगता है। इस संस्कृति का हिस्सा बनकर मैं बहुत ख़ुश हूँ।"




View this post on Instagram


It's all

A post shared by Sacramemeto Kings (@sacramentokings) on

अपने पिता के घर के तहख़ाने में, बड़े भाइयों की धक्का-मुक्की झेलते होम्स ने क्या कभी सोचा होगा कि एक दिन वे NBA के सबसे अनमोल खिलाड़ी - मोस्ट वैल्यूड प्लेयर - होने का सम्मान अर्जित करेंगे?

“ऐसी बातों को आप हलके से नहीं ले सकते," उनका कहना है। "उस पल को आत्मसात करने में समय लगता है। ख़ास तौर पर मेरे जैसे व्यक्ति को, जिसके पास बड़े होने के दौरान कुछ ख़ास नहीं था। मैंने निश्चित रूप से उस पल का पूरा आनंद लिया और आगे और भी अच्छा ही होगा।"

Tags

Related Content


NEXT UP:

  • Facebook
  • Twitter